15.9 C
New York
Saturday, April 13, 2024

Budh Ast and Retrograde in April month 2024 will impact these zodiac grah gochar april 2024


ऐप पर पढ़ें

Budh Ast April 2024 : वैदिक ज्योतिष शास्त्र में ग्रहों के उदित और अस्त होने की घटनाओं को बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है। मान्यता है कि इसका सकारात्मक-नकारात्मक प्रभाव जनमानस पर भी पड़ता है। अप्रैल महीने की शुरुआत में बुध मेष राशि में वक्री होने जा रहे हैं और इसके बाद 4 अप्रैल को सुबह 10 बजकर 36 मिनट पर मेष राशि में ही अस्त होने जा रहे हैं। ज्योतिषीय गणनाओं के अनुसार, बुध के अस्त होने से मेष, मिथुन और कन्या समेत 5 राशियों के करियर में कई बड़े बदलाव आएंगे। आइए जानते हैं बुध के अस्त होने के बाद किन राशियों को करियर के मामले में बहुत सतर्क रहना होगा?

मेष राशि : मेष राशि में ही बुध अस्त होने जा रहे हैं। इससे मेष राशि वालों को करियर के मामले में थोड़ा संभलकर रहना होगा। इस दौरान प्रोफेशनल लाइप में जुड़े डिसीजन जल्दबाजी में न लें। नई चुनौतियों के लिए तैयार रहें। विपरीत परिस्थिति को धैर्य, साहस और होशियारी से सामना करें। इससे चुनौतियों के बावजूद आपको सफलता जरूर मिलेगी।

मिथुन राशि : नौकरीपेशा वालों का तनाव बढ़ेगा। कार्यों का अधिक दबाव रहेगा। मन में नकारात्मक विचार आएंगे। ऊर्जा और आत्मविश्वास की कमी महसूस होगी। करियर से जुड़े डिसीजन लेते समय कनफ्यूजन महसूस होगी। समस्याओं में उलझे रहेंगे। धैर्य बनाए रखें और सोच-समझकर फैसले लें।

defaultअप्रैल महीने की ये हैं लकी राशियां, 4 ग्रहों के गोचर से चमकेगा भाग्य, धन-संपदा में होगी वृद्धि

कन्या राशि : कार्यों की चुनौतियां बढ़ेंगी। एकाग्रता की कमी महसूस होगी। मन में नकारात्मक विचार ज्यादा आएंगे। नौकरी-बिजनेस में बाधा उत्पन्न हो सकती है। मुश्किलें से घबराने के बजाए समस्या को सुलझाने की कोशिश करें। अपने मनोबल को कमजोर न होने दें। सफलता प्राप्त करने के लिए हर एक संभव प्रयास करते रहें।

वृश्चिक राशि : नौकरी-बिजनेस से जुड़े बड़े फैसले अभी टाल दें। ऑफिस में व्यर्थ के वाद-विवाद से दूर रहें। सहकर्मियों और बॉस के साथ अच्छे संबंध बनाए रखें। आय में वृद्धि के नए विकल्पों की तलाश करें। कोर्ट-कचहरी के मामलों से दूर रहें। इस दौरान कार्यों का दबाव बढ़ सकता है। धैर्य बनाए रखें और जल्दबाजी में कोई निर्णय न लें।

धनु राशि : आत्मविश्वास की कमी महसूस होगी। ऑफिस में वाद-विवाद बढ़ सकता  है। मानसिक अशांति रहेगी। कार्यों का तनाव बढ़ेगा। कार्यों में बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है। ऑफिस पॉलिटिक्स के शिकार हो सकते हैं। अपने अंतर्ज्ञान पर भरोसा रखें। चुनौतियों का समझदारी से समाधान निकालें। इससे सभी परेशानियों से मुक्ति मिलेगी।

डिस्क्लेमर: इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य है और सटीक है। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।



Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

- Advertisement -